Thursday, January 19, 2017

भीड़ सिर्फ़ एकतरफ़ा चली है,
और पता किसी को नहीं, है जाना कहाँ। 
तो अमूमन,
सारे सिर्फ़ Friday night का plan बनाते हैं, 
और 
१-२ ख़ुशनसीब,
हमेशा अकेले रह जाते हैं, 
मेरे case में Sober. 




-प्रणव मिश्र 


No comments:

Post a Comment